Home #Bollywood पेरिस हिल्टन 2500 करोड़ की मालकिन:दादा ने 5 अरब की संपत्ति से...

पेरिस हिल्टन 2500 करोड़ की मालकिन:दादा ने 5 अरब की संपत्ति से किया था बेदखल

13
0

जानी-मानी हॉलीवुड एक्ट्रेस, सिंगर, मॉडल, बिजनेसवुमन और सोशलाइट पेरिस हिल्टन आज अपना 43वां जन्मदिन मना रही हैं। इनका जन्म न्यूयॉर्क में हुआ और परवरिश लॉस एंजिलिस में हुई थी। ये मशहूर हिल्टन होटल्स के मालिक कॉनरेड हिल्टन की परपोती हैं। इनका बचपन काफी उतार-चढ़ाव भरा रहा।

पेरिस की आदतों से परेशान होकर पेरेंट्स ने उन्हें 16 साल की उम्र में बोर्डिंग स्कूल में भेज दिया। पेरिस ने खुलासा किया था कि इस स्कूल में उनके साथ सेक्सुअल एब्यूज हुआ जिससे वो सदमे में आ गई थीं और उन्हें उबरने में काफी वक्त लगा था। इसके बाद पेरिस ने 19 साल की उम्र में मॉडलिंग में कदम रखा था।

उन्हें डोनाल्ड ट्रंप की एजेंसी ट्रंप मॉडल मैनेजमेंट ने साइन किया था। सितंबर 2000 में वैनिटी फेयर मैगजीन ने जब उनकी तस्वीर छापी तो वो रातोंरात पॉपुलर हो गईं। इसके बाद वो सक्सेस की सीढ़ियां चढ़ती गईं। 2004 में पेरिस ने बिजनेस की दुनिया में कदम रखा। उन्होंने अपनी लाइफस्टाइल ब्रांड, जूलरी लाइन और परफ्यूम लाइन लॉन्च की। पेरिस का नाम सबसे अमीर सेलिब्रिटीज की लिस्ट में शामिल किया जाता है। वो तकरीबन 2600 करोड़ की मालकिन हैं।

पेरिस का नाम विवादों में भी उछल चुका है। उनके दादा बारोन हिल्टन ने जीवन के आखिरी समय में अपनी प्रॉपर्टी का 97 पर्सेंट चैरिटी में दे दिया था और 5 अरब की प्रॉपर्टी से पेरिस को बेदखल कर दिया था।आइए जानते हैं पेरिस की लाइफ से जुड़े कुछ दिलचस्प फैक्ट्स…

पेरिस हिल्टन का जन्म 17 फरवरी, 1981 को न्यूयॉर्क में हुआ था। उनके पिता रिचर्ड हिल्टन बिजनेसमैन और मां केथी हिल्टन एक जानी-मानी सोशलाइट और चाइल्ड एक्ट्रेस भी रह चुकी हैं। पेरिस चार भाई-बहनों में सबसे बड़ी हैं। पेरिस के दादा बारोन हिल्टन और परदादा कॉनरेड हिल्टन थे जो मशहूर हिल्टन होटल्स के मालिक थे। पेरिस के पेरेंट्स के सोशल सर्किल में डोनाल्ड ट्रंप, माइकल जैक्सन और लिओनेल रिची जैसे बड़े नाम थे। इन शख्सियतों का उनके घर आना-जाना लगा रहता था।पेरिस का जन्म न्यूयॉर्क में हुआ, लेकिन उनकी परवरिश लॉस एंजिलिस में हुई। बचपन से ही उनके रिश्तेदार उन्हें टॉमबॉय मानते थे। वो जानवरों की डॉक्टर बनना चाहती थीं। पेरिस बचपन में अपनी मां से मिलने वाली पॉकेट मनी को सेव करती थीं, ताकि वो बंदर, सांप और बकरियां अपने घर में पाल सकें। हिल्टन का परिवार काफी कंजर्वेटिव था। उनके पेरेंट्स काफी स्ट्रिक्ट थे। वो न उन्हें डेट पर जाने देते थे और ही उन्हें छोटे कपड़े पहनने देते थे। यहां तक कि उन्हें स्कूल में डांस करने की इजाजत भी नहीं थी। हालांकि, पेरिस उनकी बात नहीं मानती थीं। वो क्लासेस बंक करके पार्टियों में जाया करती थीं।

15 साल की उम्र में हुआ रेप

पेरिस ने एक इंटरव्यू में खुलासा किया था कि जब वो 15 साल की थीं तो उन्हें नशीला ड्रिंक पिलाकर उनका रेप किया गया था। एक दिन वो अपने दोस्तों के साथ लॉस एंजिलिस के सेंचुरी सिटी मॉल गई थीं जहां उनके ग्रुप की मुलाकात बुजुर्ग व्यक्तियों के ग्रुप से हुई। बाद में इसी ग्रुप के एक शख्स ने पार्टी के बहाने उन्हें घर बुलाया और नशीला ड्रिंक पिलाकर उनका रेप कर दिया था। पेरिस ने तब ये बात अपने पेरेंट्स को नहीं बताई थी।

परेशान होकर पेरेंट्स ने भेज दिया बोर्डिंग स्कूल

पेरिस की आदतों से परेशान होकर पेरेंट्स ने उन्हें 16 साल की उम्र में ऐसे बोर्डिंग स्कूल में भेज दिया जहां बिगड़ैल टीनएजर बच्चों को रखा जाता था। इस स्कूल का नाम प्रोवो कैनियन स्कूल था जहां रहने के दौरान पेरिस ने मेंटल और फिजिकल एब्यूज होने की भी बात कही थी।

पेरिस हिल्टन ने साल 2020 में आई अपनी डॉक्यूमेंट्री ‘दिस इज पेरिस’ में भी अपने साथ बचपन में हुए दुर्व्यवहार पर खुलकर बात की थी।

इसके अलावा उन्होंने सोशल मीडिया पर भी इस बात का जिक्र किया था कि जब वो स्कूल में थीं तो उनको और अन्य लड़कियों को बारी-बारी से स्टाफ के लोग मेडिकल चेकअप के बहाने गलत तरीके से छूते थे और उनका सेक्सुअल एब्यूज करते थे। वो यहां तकरीबन 11 महीने रहीं थीं। इसके बाद उन्होंने द्वाइट स्कूल ज्वाइन किया था जब तक वो 18 साल की हो चुकी थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here