Home #Congress#Rahul Gandhi राहुल की न्याय यात्रा बंगाल के मुर्शिदाबाद से रवाना

राहुल की न्याय यात्रा बंगाल के मुर्शिदाबाद से रवाना

22
0

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा का शुक्रवार को 18वां दिन है। राहुल ने आज पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद से यात्रा शुरू की है। दोपहर 2:45 तक उनकी यात्रा झारखंड के पाकुड़ जिले में पहुंचेगी।
कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने बताया कि राहुल गांधी की यात्रा मुर्शिदाबाद के गोकर्ण से सुबह 8 बजे शुरू होने वाली थी। हालांकि, बंगाल में 10वीं की परीक्षा के कारण यात्रा देर से लगभग 10:30 बजे शुरू हुई।
झारखंड कांग्रेस अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने बताया कि राहुल गांधी पाकुड़ के नसीपुर मोड़ पर एक पब्लिक मीटिंग को संबोधित करेंगे। शाम में राहुल पाकुड़ के हिरणपुर में ब्रेक लेंगे और रात में लिट्टीपाड़ा में रुकेंगे।
राजेश ठाकुर ने बताया कि झारखंड में राहुल की यात्रा दो फेज में होगी। पहले फेज में राहुल 2 फरवरी से अगले 6 दिन झारखंड में रुकेंगे। दूसरे फेज में राहुल की न्याय यात्रा दो दिनों तक चलेगी।
हालांकि, झारखंड में न्याय यात्रा के दूसरे फेज की तारीख अभी नहीं बताई गई है। कुल 8 दिनों की यात्रा में राहुल राज्य के 13 जिलों में 804 किमी की दूरी तय करेंगे।भारत जोड़ो न्याय यात्रा पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद पहुंची। राहुल गांधी ने यहां बीड़ी बनाने वाले मजदूरों से मुलाकात की। उनकी परेशानियां जानने की कोशिश की। मुर्शिदाबाद कांग्रेस के लिए इसलिए भी अहम है क्योंकि इसे कांग्रेस का गढ़ कहा जाता है।कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा बिहार से दोबारा पश्चिम बंगाल पहुंची। यहां मालदा में राहुल की कार का शीशा टूट गया। पहले खबर आई कि राहुल की कार पर पत्थरों से हमला किया गया। इसकी जानकारी अधीर रंजन चौधरी ने दी। उन्होंने कहा कि ऐसे ऐसे हमले बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे।
इसके कुछ देर बाद कांग्रेस की सोशल मीडिया प्रमुख सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि राहुल पर हमले की खबर गलत है। जब एक महिला राहुल से मिलने के लिए एकदम से आगे आ गईं, तब कार को अचानक रोकना पड़ा। इससे सुरक्षा घेरे में इस्तेमाल किए जाने वाली रस्से से कार की विंडशील्ड टूट गई।राहुल गांधी ने बिहार के पूर्णिया में नीतीश कुमार पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि नीतीश पर दबाव पड़ता है तो वो यू टर्न ले लेते हैं। वो शपथ लेते हैं तो खूब तालियां बजती हैं। उन्होंने ये भी कहा था कि नीतीश सीएम हाउस की ओर निकल जाते हैं, बाद में पता चलता है कि वो अपना शॉल राज्यपाल भवन में छोड़ आए हैं, उसे लेने वापस जाते हैं तो गर्वनर भी कहते हैं कि इतनी जल्दी आ गए।
राहुल ने किसानों पर भी बात की थी। उन्होंने कहा कि जो भी राजनेता किसानों की जमीन की रक्षा करने की बात करेगा, उस पर 24 घंटे आक्रमण होगा। हिंदुस्तान की सरकार जमीन अधिग्रहण के कानून को तोड़ रही है। किसानों को चारों ओर से घेरा जा रहा है। आपसे जमीन ली जाती है और अडाणी जैसे बड़े-बड़े उद्योगपतियों को मुफ्त में दी जाती है। किशनगंज में स्टेडियम में जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा कि देश में RSS और भाजपा की विचारधारा ने हिंसा और नफरत फैला रखी है। 4 मिनट के भाषण में राहुल गांधी एक शब्द भी बिहार की नई सरकार और नीतीश कुमार पर नहीं बोले। उन्होंने सिर्फ आरएसएस और भाजपा पर हमला कियादो दिन के ब्रेक के बाद कांग्रेस की न्याय यात्रा रविवार (28 जनवरी) को जलपाईगुड़ी से दोपहर 2:30 बजे से शुरू हुई। राहुल गांधी ने कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी के साथ SUV कार पर सवार होकर यात्रा शुरू की। शाम होते-होते यात्रा सिलिगुड़ी पहुंची। रात्रि विश्राम के बाद कल (सोमवार को) सुबह यात्रा उत्तर दिनाजपुर के इस्लामपुर होते हुए दोपहर तक बिहार में प्रवेश करेगी।
यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने जलपाईगुड़ी में कहा- बंगाल और बंगालियों को अन्याय के खिलाफ लड़ने के लिए आगे आना होगा और नफरत को खत्म करना होगा। अगर आप अब आगे नहीं आएंगे तो लोग आपको कभी माफ नहीं करेंगे। हमने यात्रा में न्याय शब्द जोड़ा है, क्योंकि हिंदुस्तान में नफरत का कारण अन्याय है। ऐसा इसलिए क्योंकि देश की सारी संपत्ति कुछ चुनिंदा उद्योगपतियों के हाथों में जा रही है। कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा का गुरुवार (25 जनवरी) को 12वां दिन है। सुबह 8 बजे यात्रा असम से शुरू हुई। 11:30 बजे के करीब यात्रा पश्चिम बंगाल के कूच बिहार जिले के बक्शीरहाट पहुंची।असम से होकर निकली न्याय यात्रा को लेकर काफी विवाद रहा। CM हिमंता ने गुरुवार को कहा- यात्रा की टाइमिंग देखिए। कांग्रेस ने असम में एक बड़ा सांप्रदायिक टकराव भड़काने की साजिश रची थी। इसकी एक झलक हमें गुवाहाटी में मिली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here