Home Blog लोकसभा चुनाव से पहले दर्शन से ‘राममय’ होगा देश, भाजपा चलाएगी अभियान;...

लोकसभा चुनाव से पहले दर्शन से ‘राममय’ होगा देश, भाजपा चलाएगी अभियान; रामनगरी पहुंची पहली आस्था स्पेशल ट्रेन

18
0

लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा भगवान के दर्शन से देश को राममय करेगी। हालांकि घोषित तौर पर भाजपा इस अभियान में मात्र रामभक्तों के सेवक की भूमिका में है लेकिन जिस नियोजित ढंग से भाजपा इस अभियान को आगे बढ़ा रही है। भगवान रामलला की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर इस मुद्दे का प्रभाव पूरे देश में दिखा। पूरा देश उल्लास में डूब गया था। लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा भगवान के दर्शन से देश को राममय करेगी। हालांकि, घोषित तौर पर भाजपा इस अभियान में मात्र रामभक्तों के सेवक की भूमिका में है, लेकिन जिस नियोजित ढंग से भाजपा इस अभियान को आगे बढ़ा रही है, उससे स्पष्ट है कि लोकसभा चुनाव से पहले ही भगवा रंग हर राज्य और हर जिले में दिन ब दिन चटख ही होगा।भगवान रामलला की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर इस मुद्दे का प्रभाव पूरे देश में दिखा। पूरा देश उल्लास में डूब गया था। रामदर्शन के लिए पहले 29 जनवरी से ही आस्था स्पेशल ट्रेनों का नियमित संचालन करने का निर्णय लिया गया था, लेकिन स्वप्रेरणा से अत्यधिक संख्या में पहुंच रहे श्रद्धालुओं के दृष्टिगत व्यवस्थाएं प्रभावित न हों, इसलिए अब इनका नियमित संचालन पांच फरवरी से होगा।
इसी कारण विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों व उनके मंत्रिमंडल के दर्शन की तिथियों में बदलाव संभावित है। आगामी तीन मार्च तक 311 ट्रेनें आएंगी। हालांकि, यह अभियान 24 मार्च तक चलेगा। बाद की तिथियों के लिए शीघ्र ट्रेनें तय होंगी। तीन मार्च तक प्रत्येक ट्रेन में 14 सौ से 15 सौ लोग अयोध्या आएंगे। प्रतिदिन आठ से 10 ट्रेन अयोध्या पहुंचेंगी।
इसके साथ ही प्रत्येक लोकसभा और विधानसभा क्षेत्रवार भी लोगों को दर्शन कराने के लिए चार पहिया वाहनों व बसों से अयोध्या लाने की योजना है। इसी गणना से तीन मार्च तक ही देशभर से लाखों श्रद्धालु अयोध्या पहुंचेंगे। दर्शन के अलावा पूरे देश से भाजपा कार्यकर्ता यहां सेवा देने आएंगे, जिससे श्रद्धालुओं से आसानी से संवाद स्थापित किया जा सके।
उदाहरण के लिए तमिलनाडु के कार्यकर्ता तमिलनाडु के लोगों की सेवा में लगेंगे, जिससे आपसी वार्तालाप में किसी प्रकार की समस्या नहीं आए। पश्चिम बंगाल, केरल, आंध्र प्रदेश, असम, अरुणाचल प्रदेश आदि उन सभी राज्यों के भाजपा कार्यकर्ताओं की भूमिका तय की गई है, जहां की भाषा हिंदी से भिन्न है। पूरी अयोध्या में 22 स्थानों पर भंडारे संचालित किए जाएंगे। इस यात्रा की मानीटरिंग राष्ट्रीय महामंत्री (संगठन) बीएल संतोष और राष्ट्रीय महासचिव सुनील बंसल कर रहे हैं।
प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव के बाद रामलला का दर्शन कराने के लिए केंद्र सरकार की ओर से सोमवार की सुबह पहली ट्रेन जयपुर तथा उसके बाद दोपहर 2.30 बजे दूसरी स्पेशल ट्रेन भगत की कोठी से अयोध्याधाम जंक्शन पहुंची। ट्रेन के पहुंचते ही श्रद्धालुओं के स्वागत में फूल बरसाए गए। स्टेशन श्रीराम का जयघोष से गूंज उठा।
विहिप नेता राजाराम ने बताया कि दोनों ट्रेनों से करीब तीन हजार कार्यकर्ता एवं श्रद्धालु रामनगरी पहुंचे है। राजस्थान से पांच ट्रेनें आना प्रस्तावित है, जिसमें सात हजार श्रद्धालुओं को रामनगरी में राममंदिर सहित अन्य प्रमुख मंदिरों का दर्शन एवं सरयू स्नान कराया जाएगा। सभी श्रद्धालुओं के विश्राम का प्रबंध तीर्थक्षेत्र पुरम में किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here