Home Blog राज्यपाल के सामने परेड कर सकते हैं RJD विधायक, पटना में बीजेपी...

राज्यपाल के सामने परेड कर सकते हैं RJD विधायक, पटना में बीजेपी ने बुलाई विधायक दल की बैठक

19
0

बिहार में इस वक्त सियासी हलचल जारी है। राजद और जेडीयू गठबंधन टूटने की कगार पर है। शुक्रवार को पटना में दिनभर बैठकों का दौर जारी रहा।

राबड़ी आवास पर लालू-तेजस्वी ने राजद कोटे के मंत्रियों के साथ बैठक की। वहीं नीतीश कुमार ने भी सीएम आवास पर अपने नेताओं के साथ मुलाकात की। उधर दिल्ली में बिहार की सियासी हलचल को देखते हुए दिल्ली में बीजेपी के शीर्ष नेताओं ने भी मीटिंग की। इसमें पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृहमंत्री अमित शाह और बीजेपी के महासचिव बीएल संतोष भी शामिल हुए।

बताया जा रहा है कि आरजेडी शनिवार को राज्यपाल के सामने विधायकों की परेड करा सकती है। वहीं, भाजपा सूत्रों की माने तो नीतीश कुमार आज मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे सकते हैं और रविवार को 9वीं बार सीएम पद की शपथ लेने का रिकॉर्ड बना सकते हैं। इसे लेकर बीजेपी ने शनिवार को पटना में विधायक दल की बैठक बुलाई है।26 जनवरी के कार्यक्रम में भी CM नीतीश कुमार और डिप्टी CM तेजस्वी यादव डेढ़ घंटे साथ रहे, लेकिन दोनों ने आपस में बात नहीं की। इसके बाद राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर के टी पार्टी में बुलावे पर सीएम नीतीश कुमार पहुंचे, लेकिन डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव नहीं गए। शिक्षा मंत्री आलोक मेहता को छोड़कर राजद का कोई भी नेता-विधायक भी टी पार्टी में नहीं पहुंचा।
राजभवन में सीएम करीब 50 मिनट राजभवन में रहे। इस दौरान उन्होंने मीडिया से दूरी बनाए रखी। खास बात ये थी कि सीएम नीतीश ने कुर्सी से उठकर पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी से जाकर मुलाकात की। राजभवन से निकलने के बाद जब उनसे तेजस्वी के नहीं आने को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने सिर्फ इतना ही कहा कि उन्हीं से जाकर पूछिए।चर्चा इस बात की भी है कि नीतीश कुमार 28 जनवरी को एक बार फिर मुख्यमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। इन चर्चाओं को लेकर जब पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी से पत्रकारों ने सवाल किया तो उन्होंने कहा कि राजनीति में किसी के लिए दरवाजे परमानेंट बंद नहीं होते। अगर बंद होता है तो खुलता भी है।
वहीं, पटना पहुंचे बिहार बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने कहा कि लोकसभा चुनाव को लेकर कल बैठक बुलाई गई है। बिहार में सत्ता बदलने को लेकर मौजूदा सरकार बताएगी। सम्राट चौधरी ने सुशील मोदी के दरवाजे खोलने वाले बयान पर कहा कि दरवाजे खोलने पर जिन्होंने बयान दिया है वही बताएंगे। रास्ते के बारे में वही बता सकते हैं। बीजेपी के स्तर पर कोई बात नहीं है, पूरी तरह से क्लियर रहना चाहिए।
उन्होंने कहा कि भाजपा जिस तरह से लड़ते चली आ रही है इस तरह से आगे भी लड़ेगी। पगड़ी खोलने पर उन्होंने कहा, पगड़ी का जवाब है पगड़ी के समय पर ही दूंगा।आरजेडी ने दोपहर एक बजे विधायक दल की बैठक बुलाई है। ये बैठक डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के आवास पर होगी। बैठक के बाद आरजेडी के विधायक राजभवन पहुंच सकते हैं। यहां वे सरकार से अपना समर्थन वापस लेकर अपनी सरकार बनाने का दावा पेश कर सकते हैं।
वहीं दूसरी तरफ बीजेपी ने 4 बजे बीजेपी ने विधान मंडल दल की बैठक बुलाई है। इसमें पार्टी के सभी विधायक और विधान पार्षद शामिल होंगे। सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक विधान मंडल दल की बैठक के बाद बीजेपी के नेता नीतीश कुमार के प्रति अपना समर्थन पत्र राजभवन पहुंच सकते हैं। चर्चा इस बात की भी है कि इसी दौरान सीएम नीतीश कुमार अपना कैबिनेट भंग कर सकते हैं।
इधर सियासी हलचल के बीच नीतीश कुमार के दो सरकारी इवेंट भी प्रस्तावित हैं। सीएम नीतीश कुमार सुबह वेटनरी कॉलेज में महाराणा प्रताप की जयंती समारोह में शामिल होंगे। इसके बाद वे बक्सर के ब्रह्मेश्वर स्थान मंदिर परिसर के विकास कार्य के फेज-1 का उद्घाटन और फेज-2 का शिलान्यास करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here